MP Board 10th 12th Supplementary Exam Time Table 2020 : एमपी बोर्ड 10वीं 12वीं सप्लीमेंट्री परीक्षा का टाइम टेबल जारी, देखें पूरी डेटशीट

mp board 10th 12th supplementary exam time table 2020

MP Board 10th 12th Supplementary Exam Time Table 2020 :  मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की कक्षा 10वीं और 12वीं बोर्ड की सप्लीमेंट्री परीक्षाएं 14 सितंबर से शुरू होकर 22 सितंबर तक चलेंगी। हाईस्कूल के 1,37,912 छात्र, हायर सेकेंडरी के 1,21,645 छात्र और हायर सेकेंडरी व्यावसायिक के 2714 छात्र पूरक परीक्षा में शामिल होंगे। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल ने कक्षा 10वीं और 12वीं बोर्ड की सप्लीमेंट्री एग्जाम के तारीखों का ऐलान कर दिया। यह परीक्षाएं 14 सितंबर से शुरू होंगी। एमपी बोर्ड ने परीक्षा का पूरा टाइम टेबल जारी कर दिया है। टाइम टेबल www.mpbse.nic.in वेबसाइट पर देखा जा सकता है। ये पूरक परीक्षाएं 14 सितंबर से शुरू होकर 22 सितंबर तक चलेंगी।

एमपी बोर्ड के माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बोर्ड की पूरक परीक्षा की तैयारी पूरी कर ली है। सभी 51 जिलों में जिला और ब्लॉक स्तर पर परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। हाई स्कूल परीक्षार्थियों के लिए 419 और हायर सेकेंडरी के पूरक परीक्षार्थियों के लिए 430, हायर सेकेंड्री व्यावसायिक परीक्षा के पूरक परीक्षार्थियों के लिए 58 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इस साल हाई स्कूल के 1,37,912 छात्र, हायर सेकेंडरी के 1,21,645 छात्र और हायर सेकेंडरी व्यावसायिक के 2714 छात्र पूरक परीक्षा में सम्मिलित होंगे।

mp board 10th 12th supplementary exam time table 2020

इन पूरक परीक्षाओं के लिए छात्र एमपी बोर्ड की वेबसाइट www.mpbse.mponline.gov.in से एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की पूरक परीक्षा में अंध, मूक, बधिर छात्र भी शामिल होंगे। लिखित परीक्षा के बाद उसी दिन केंद्राध्यक्ष प्रैक्टिकल भी लेंगे। बोर्ड ने कहा है कि प्रैक्टिकल एग्जाम के लिए छात्र केंद्राध्यक्षों के संपर्क में रहें। पूरक परीक्षाओं का टाइम टेबल www. mpbse.nic.in पर जाकर देखा जा सकता है।

mp board 10th 12th supplementary exam time table 2020

कोरोना काल में एमपी बोर्ड की कक्षा 10वीं और 12वीं की सप्लीमेंट्री एग्जाम भी सोशल डिस्टेंस के साथ आयोजित की जाएंगी। परीक्षा केंद्रों पर छात्रों का तापमान जाँच करने के बाद ही परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा। सभी छात्रों के लिए मास्क लगाना अनिवार्य होगा। परीक्षा के दौरान दो परीक्षार्थियों की बेंच के बीच 6 फीट की दूरी रखी जाएगी। परीक्षा के बाद छात्रों के एक साथ एक ग्रुप में खड़े होने पर पाबंदी रहेगी। साथ ही कोरोना गाइड लाइन का पालन करना होगा।

news from: live hindustan

MP Board 12th Result 2020 Date: Madhya Pradesh Board to Declare MPBSE Class 12 Results on July 27; Details Here

MP Board 12th Result 2020: Once declared, the much-awaited results would be made available at board’s official websites such as mpbse.nic.in and mpresults.nic.in

Updated:July 26, 2020
 

MP Board 12th Result 2020 Date: Madhya Pradesh Board to Declare MPBSE Class 12 Results on July 27; Details Here

 
 

MP Board 12th Result 2020 Date and time | The Madhya Pradesh Board of Secondary Education (MPBSE) will announce the MP Class 12 Board Result 2020 on Monday (July 26). Earlier Principal Secretary of school education Rashmi Arun Shami had reportedly said that the MP 12th Result 2020 will be announced in the third week of July. However, declaration of MPBSE 12th Results 2020 got delayed due to the coronavirus crisis. As the announcement of MPBSE 12th Results 2020 is expected soon, here are few things that the students, who had appeared for MP Class 12 Board Exams this year, should know –

1. Date and Time: The Madhya Pradesh Board is expected to announce MP Class 12 Board Result 2020 on July 27. The MPBSE Board has officially confirmed date and time of results declaration.

2. Where to Check: Students waiting for their MPBSE 12th Results 2020 are advised to keep their admit cards ready as it will be required for the details mentioned on it at the time of checking their scores online. Once declared, the much-awaited results would be made available at board’s official websites such as mpbse.nic.in and mpresults.nic.in.

 

3. How to Check: Students can check their MP 12th Result 2020 through online mode.

Here’s how to check –

  • Step 2: On homepage, tap on ‘MP Board Class 12 Examination 2020’ link
  • Step 3: Enter details mentioned on admit card and then click on ‘submit’ button
  • Step 4: MP 12th result 2020 will appear on screen

MP Board 12th Result 2020 : 15 जुलाई के बाद जारी होंगे मध्य प्रदेश 12वीं के रिजल्ट, चेक करें लेटेस्ट अपडेट

MP Board Updates

MP Board 12th Result 2020 Update: मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE)  12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम 15 जुलाई के बाद जारी होंगे। एमपी बोर्ड की ओर से करीब एक सप्ताह पहले जानकारी दी गई थी कि एमपी बोर्ड इंटरमीडिएट (class 12) के रिजल्ट जुलाई के तीसरे सप्ताह में जारी किए जाएंगे यानी 15 जुलाई के बाद कभी भी इंटर रिजल्ट जारी किए जा सकते हैं।

मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल के डायरेक्टर हेमंत शर्मा ने स्थानीय मीडिया को बताया था कि एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं के नतीजे दशकों बाद अलग-अलग जारी किए जा रहे हैं। जैसा किर एमपी बोर्ड ने बताया था 10वीं का रिजल्ट जुलाई के पहले सप्ताह में 4 जुलाई को जारी कर दिया। 30 साल बाद पहली बार ऐसा मौका था जबकि एमपी बोर्ड 10वीं के नतीजे 12वीं से पहले घोषित किए गए। इस साल 10वीं की परीक्षा में 62.84 फीसदी छात्रों को सफलता मिली है। वहीं 15 छात्र ऐसे थे जिन्में 100 में 100 यानी 100% अंक प्राप्त हुए हैं।

आपको बता दें कि कोरोना वायरस और लॉकडान के कारण 10वीं के दो पेपर और 12वीं के कुछ पेपर शेष रहे गए थे। मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार ने 10वीं की परीक्षाएं रद्द करने का फैसला किया था। वहीं 12वीं की शेष परीक्षाएं 9 जून से 16 जून तक चली थीं। इन परीक्षाओं की 20 लाख उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य शेष था जिसे अब दो-तीन दिन में पूरा कर लिया जाएगा। 10 जुलाई तक एमपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट तैयार कर लिया जाएगा और फिर 15 जुलाई के आसपास कभी भी रिजल्ट जारी किया जा सकता है। आपको बता दें कि 2020 की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में करीब 19 लाख छात्र छात्राएं शामिल हुए थे।

MP Board 10th, 12th Result 2020 : एमपी बोर्ड ने रिजल्ट घोषित करने को लेकर दी अहम जानकारी

jac 8th result 2020 declared now

MP Board 10th Result 2020 : मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MP Board) ने 10वीं और 12वीं के रिजल्ट जारी किए जाने को लेकर अहम जानकारी दी है। माध्यमिक शिक्षा मंडल के डायरेक्टर हेमंत शर्मा ने एक स्थानीय मीडिया को बताया है कि एमपी बोर्ड 10वीं के नतीजे जुलाई के पहले सप्ताह में जारी किए जाएंगे। अगले 10 दिन के अंदर कभी भी रिजल्ट जारी किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि 10वीं की परीक्षा में जितने पेपर हुए हैं उन्हीं के आधार पर रिजल्ट तैयार किया गया है। जिन पेपर की परीक्षा नहीं हो पाई उनमें किसी भी छात्र को फेल नहीं किया जाएगा। साथ ही 12वीं के परिणाम जुलाई के तीसरे सप्ताह में जारी किए जाएंगे।

एमपी बोर्ड ने इससे पहले कहा था कि 10वीं के परिणाम जून अंत तक जारी कर दिए जाएंगे लेकिन यह रिजल्ट अब जुलाई के पहले सप्ताह में जारी किए जाएंगे।

इसलिए पहले जारी होगा 10वीं का रिजल्ट-
बोर्ड ने बताया कि 10वीं की कुछ परीक्षाएं मार्च में करा ली गई थीं और शेष परीक्षाएं रद्द कर दी गई थीं। लिहाजा 10वीं परीक्षाओं की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन समय पर पूरा किया जा चुका है। लेकिन 12वीं की शेष परीक्षाएं 9 जून से 16 जून तक चली हैं। ऐसे में अभी 12वीं की कॉपियों की चेकिंग काम चल रहा है। यही कारण है कि 10वीं का रिजल्ट इस बार 12वीं से पहले जारी किया जा रहा है।

एम बोर्ड 12वीं की दोबारा हुई परीक्षाओं में 20 लाख उत्तर पुस्तिकाएं लगी है। इनका मूल्यांकन चल रहा है। उम्मीद है कि अगले 10 दिन में इनका मूल्यांकन कार्य पूरा हो जाएगा और 15 जुलाई के बाद जल्द से जल्द रिजल्ट जारी कर दिया जाएगा। आपको बता दें कि 2020 की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में करीब 19 लाख छात्र छात्राएं शामिल हुए थे। रिजल्ट की घोषणा होने पर स्टूडेंट्स mpbse.nic.in पर रिजल्ट चेक कर सकेंगे। 

News taken from Live hindustan

मध्य प्रदेश सरकार ने प्री प्राइमरी और प्राइमरी ऑनलाइन कक्षाओं पर लगाई रोक

online study by zoom in ndmc school started

मध्य प्रदेश शासन ने ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन की समय अवधि तय करते हुए प्री-प्राइमरी और प्राथमिक कक्षाओं के ऑनलाइन संचालन पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाया है।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा जारी आदेश अनुसार कक्षा 6 से 8 तक ही ऑनलाइन कक्षाएं प्रतिदिन 2 सत्र में अधिकतम 30 से 45 मिनट प्रति सत्र ही आयोजित की जा सकेंगी।

प्रदेश में कई परिवार/छात्र-छात्राओं के पास डिजिटल डिवाइस अथवा डेटा रिचार्ज की समस्या भी परिलक्षित हो रही है। कतिपय स्रोतों द्वारा यह भी संज्ञान में लाया गया है कि कुछ निजी शालाओं द्वारा अनियंत्रित एवं लंबी अवधि की ऑनलाइन कक्षाएं संचालित की जा रही हैं।

दूरस्थ शिक्षा, विशेषकर मोबाइल/लैपटॉप/कम्प्यूटर के माध्यम से ऑनलाइन कक्षाओं से कम आयु वर्ग के बच्चों में संभावित दुष्प्रभाव तथा उनके अभिभावकों के लिये उत्पन्न हो रही कठिनाइयों के दृष्टिगत नि:शुल्क और अनिवार्य बाल शिक्षा का अधिकार नियम में निहित शक्तियों का प्रयोग करते हुए विद्याथीर् की समग्र गुणवत्ता के उद्देश्य से ऑनलाइन कक्षाओं के संचालन की अवधि तय की गई है।

ऑनलाइन कक्षाओं की रिकॉर्डिंग भी विद्यार्थियों के लिये उपलब्ध कराई जायेगी, जिससे विद्यार्थी तथा अभिभावक उसे अपनी सुविधानुसार उपयोग कर सकें। एनसीईआरटी द्वारा तैयार किये गये दिशा-निर्देश ‘सेफ ऑनलाइन लर्निंग इन टाइम्स ऑफ कोविड-19” का पालन सुनिश्चित करने के लिये भी कहा गया है।

News taken from ‘live hindustan’